Meeting on digitisation of land records,maps held

Top Stories

While digitising the land records,the maps of the land should also be made online so that they are available to the common people,observed Jharkhand Chief Secretary RS Sharma.

Sharma made this observation today when he was addressing a meeting on digitisation of land records in the Project Bhawan,ranchi.

A press release issued by public relations department in Hindi said as follows:

मुख्य सचिव श्री आर0एस0षर्मा आज प्रोजेक्ट भवन सिथत अपने सभागार में भूमि रिकोर्ड के डिजिटार्इजेषन बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि भूमि-रिकोर्ड के डिजिटार्इजेषन को आनलार्इन करने के साथ-साथ भूमि के नक्षे को भी आनलार्इन किया जाए, ताकि भूमि संबंधी सभी जानकारी आम लोगों को प्राप्त हो सके।

श्री शर्मा ने कहा कि हर जिले के हर गाँव के भूमि-रिकोर्ड की पूरी जानकारी एक सीट पर उपलब्ध होनी चाहिए। इससे संबंधित साफ्टवेयर का निर्माण इस रूप में हो कि वह अधिक से अधिक यूजर फ्रेंडली हो। संबंधित विभाग को निदेष देते हुए उन्होंने कहा कि भूमि रिकार्ड के डिजिटार्इजेषन को ससमय पूरा करने के लिए हर महीने एवं हर दिन का लक्ष्य निर्धारित करते हुए काम करें। अगर ससमय काम को पूरा करने के लिए अधिक मैन पावर की जरूरत हो तो नर्इ नियुकितयाँ करें।

विदित हो कि भूमि का रिकोर्ड का डिजिटार्इजेषन एवं आनलार्इन करने का कार्य जे0एस0ए0सी0 और जैप0आर्इ0टी0 को दिया गया है। दोनों ऐजेसियों के कार्यप्रगति से असंतोष जाहिर करते हुए श्री शर्मा ने कहा कि विभाग अपने स्तर पर कार्य में तेजी लाएं और ससमय कार्य को पूरा करने के लिए डाटा डिजिटार्इजेषन के कार्य को करने के लिए केन्द्रीÑत सेन्टर का निर्माण करें। भूमि रिकोर्ड को जिलों से मंगवाकर केन्द्रीÑत सेन्टर में कार्य करें ताकि कार्य में तेजी आ सके। मुख्य सचिव ने कहा कि 15 जुलार्इ के बाद भूमि के म्यूटेषन एवं शुद्धि-पर्ची का कार्य सिर्फ आनलार्इन हो।

उन्होंने भूमि रिकोर्ड के आंकड़े के जांच के कार्य को अलग ऐजेंसी से करवाने का निदेष दिया। जांच के कार्य के लिए बी0पी0ओ0 को सौंपने का सलाह देते हुए श्री शर्मा ने कहा कि बी0पी0ओ0 की कार्य की जांच पदाधिकारी सेम्पल चेक द्वारा करें ताकि आंकड़े में किसी भी प्रकार के त्रुटि की सम्भावना को समाप्त किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *