"Jharkhand Day"at IITF

Stories

It was Jharkhand’s day at IITF.On the occasion,a cultural programme was organised at Pragati Maidan, New Delhi. A number of artists including tribal troupes mesmerised the audience with their performance.Chief Minister Arjun Munda was the chief guest.

Prior to this Munda inspected the Pavallion put up by Jharkhand government at IITF.

The details of the programme were mentioned in the communique prepared by the Public Relations Department.The communique in Hindi states as follows:

आज माननीय मुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुण्डा, द्वारा माननीय गोडडा सांसद श्री निषिकांत दुबे, मुख्य सचिव, श्री एस0के0 चौधरी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ झारखण्ड पैवेलियन में आयोजित विभागीय एवं इतरविभागीय प्रदर्षनीयों का अवलोकन किया गया। झारखण्ड के समग्र विकास को उदभाषित करती प्रदर्षनियों पर माननीय मुख्यमंत्री द्वारा प्रसन्ता व्यक्त की गयी।

स्थानिय पत्रकारों से वार्ता के क्रम में माननीय मुख्यमंत्री द्वारा बतलाया गया कि हमने प्रदर्षनी के माध्यम से झारखण्ड के समेकित विकास की रुपरेखा को प्रतिबिंबित करने का प्रयास किया है। इनके द्वारा बतलाया गया कि हमें सबसे पहले हमारी आधारभूत संरचना को विकासित करना है। उदाहरण स्वरुप इनके द्वारा दर्षाया गया कि झारखण्ड में उर्जा समस्या को न्यूनतम लागत पर दूर करने का प्रयास किया जा रहा है, जिससे झारखण्ड के साथ-साथ पुरे देष को लाभ होगा। हाल फिलहाल में आधुनिक ग्रुप द्वारा सरायकेला-खरसावां में निर्मित पावर प्लांट का उल्लेख करते हुए माननीय मुख्यमंत्री द्वारा बतलाया गया कि झारखण्ड में ऐेसे कर्इ पावर प्रोजेक्ट का उदघाटन किया जायेगा। इनके द्वारा बतलाया गया कि इस वर्ष को हम ”युवा क्षमता विकास” एवं महिला क्षमता विकास के रुप में मनायेंगे।

माननीय मुख्यमंत्री द्वारा बतलाया गया कि पाकूड़ के खान से कोयले के उठाव को बाधित करने का मेरे ख्याल से कोर्इ औचित्य नहीं है क्योंकि इससे विकास बाधित होता है तथा इसके समाधान हेतु प्रबंधन वार्ता करने की पहल युनियन के नेताओं को करनी चाहिए।[nggallery id=41]

आज प्रगति मैदान में झारखण्ड दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर माननीय मुख्यमंत्री ने दिप प्रज्वलित कर इस समरोह का उदघाटन किया। इस मौके पर झारखण्ड की लोक संस्कृति को हंम्सध्वनी थियेटर में झारखण्ड से आये करीब 125 कलाकारों द्वारा प्रदर्षित किया जा रहा है। इस समारोह का मुख्य आकर्षण पार्इका, मानभूम छउ तथा मर्दाना झुमर है। आज प्रगति मैदान में रांची के श्री मुकुन्द नायक जो एक विष्व स्तर के कलाकार हैं उनके गु्रप द्वारा बहुत ही उम्दा प्रदर्षन किया जा रहा है।

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला 2012 में प्रदर्षित राज्य स्तरीय विकासात्मक-सह- भौगोलिक एवं सांस्कृतिक श्रंखला में झारखण्उ पैवेलियन आधार पुष्प के रुप में उभरा है। इसे स्वरुप प्रदसप करने में सरकारी स्टालों के साथ स्वपोषित एवं सरकार द्वारा अनुदानित स्वयं सेवी संस्थाओं की समतुल्य भूमिका दृषिटगोचर हो रही है।
सरकारी उपक्रम झारक्राफट का स्टाल अपने सूती, रेषमी वस्त्रों के साथ साथ डोकरा शैली में निर्मित आकर्षक मूर्तियों से सुसजिजत है तो वन विभाग अपने पर्ण हरित वनों में अवसिथत जैविक उधान, हिरण प्रजनन उधान, हाथी अभ्यारण्य तथा अन्य ग्यारह अभारज्यों के जीवंत प्रदर्षनी से आगंतुकों के आकर्षण को केन्द्र बना हुआ है। खान एवं रत्न गर्भा धरती को प्रदर्षित कर रहा है तो स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की प्रदर्षनी से लोगों को स्वास्थ्य लाभ हेतु झारखण्ड आने का निमंत्रण दे रहा है।

गैर पारम्परिक उर्जा विभाग की प्रदर्षनी उर्जा के क्षेत्र में झारखण्ड की बढ़ती आत्पमनिर्भरता को दर्षा रही है तो राज्य खादी ग्रामोधोग आयोग की प्रदर्षनी झारखण्ड में बापू के स्वावलम्बन की चरम परिणति को आदिर्षित कर रही है।

लोक एवं निजी क्षेत्रों में से स्टील आथोरिटी आफ इणिडया, एच.र्इ.सी, औधोगिक घरानों में से टाटा मोटर्स, टाटा पावर, आध्ुानिक ग्रुप तथा जिंदल स्टील एण्ड पावर अपने प्रमुख उत्पउादों एवं लोक स्वास्थ्य से संबंधित प्रदर्षनी आगन्तुकों के आकर्षण का प्रमुख केन्द्र बना हुआ है। उधान निदेषालय की प्रदर्षनी में एलोविरा रस एवं जेल से लोगों को स्वास्थ्य संदेष दे रहा है।

स्वयंसेवी संस्थाओं की प्रदर्षनी में राज्य सहकारी लाह क्रय उत्पदों एवं चुड़ी के साथ महिलाओं का मुख्य आकर्षण बना हुआ है। झारखण्ड वेलफेयर डेवलपमेन्ट सोसार्इटी, लोहरदगा द्वारा निर्मित आकर्षक कालीन दर्षकों को अपनपी ओर आकर्षित कर रहा है।
सुधा हैण्डीक्राफट एण्ड हैण्डलुम में उपलब्ध जुट के थैले तथा घरेलु उत्पाद को खरीदारी दर्षक कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *