Governor Ahmad recommends CBI probe into coal blocks allocations

Top Stories

Governor Syed Ahmad has recommended a CBI probe into the allegations of irregularities in allocations of coal blocks.These coal blocks were allotted by the Centre in response to recomendations made by the Jharkhand’s mines department.

A press release issued by the public relation department gave details of the recommendations made by Governor Ahmad.The details are as follows:

महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने झारखण्ड राज्य में कोल ब्लाक आवंटन में बरती गयी अनियमितताओं से संबंधित आरोपों की जाँच सी0बी0आर्इ0 (केन्द्रीय जाँच ब्यूरो) से कराने हेतु गृह विभाग के प्रस्ताव पर अपनी सहमति प्रदान कर दी है। गृह विभाग ने अपने प्रस्ताव में यह आग्रह किया था कि आरोपों की विधिवत जाँच हेतु सी0बी0आर्इ0 को झारखण्ड सरकार की विधिवत सहमति (जिसमें दिल्ली स्पेषल पुलिस स्टेबलिसमेंट एक्ट-1946 के न्ध्ै.6 के अन्तर्गत अधिसूचना एवं निर्धारित प्रपत्र में अनुषंसा) आवष्यक है। विदित हो कि कोल ब्लाक आवंटन में बरती गयी अनियमितता से संबंधित प्रारंभिक जाँच में सी0बी0आर्इ0 ने कोल ब्लाक आवंटन में अनियमितता पायी थी। अत: उपरोक्त को दृषिट में रखकर महामहिम राज्यपाल ने विधिवत जाँच हेतु अपनी सहमति प्रदान कर दी है।
—————————————————-
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने श्री कारू दास, जिला षिक्षा पदाधिकारी, गिरिडीह को निलंबित करने का आदेष दिया है। विदित हो कि महामहिम राज्यपाल द्वारा दिनांक 3 फरवरी 2013 को गिरिडीह जिले में एक समीक्षा बैठक आहूत की गर्इ थी। उक्त बैठक में श्री कारू दास बिना सूचना के अनुपसिथत थे।
—————————————————-

महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने श्री सुनील कुमार सिन्हा, वाणिज्यकर पदाधिकारी, जमषेदपुर को अपने सहयोगी महिला पदाधिकारी के साथ अषोभनीय व्यवहार करने के कारण दंडित किया है। दण्डस्वरूप श्री सिन्हा को अंसचयात्मक प्रभाव से तीन वेतन वृद्धि पर रोक का आदेष तथा श्री सिन्हा का जमषेदपुर से अन्यत्र स्थानांतरण किया गया है।

—————————————————-
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने श्री कृष्ण प्रसाद सिंह, तत्कालीन कार्यपालक अभियंता, पथ प्रमंडल, चार्इबासा सम्प्रति सेवा से बर्खास्त के द्वारा हाता-चार्इबासा पथ के कि0मी0 0.00 से 40.800 तक में मजबूतीकरण कार्य में दुरूपयोगित राषि रू0 59.78 लाख की वसूली के लिए उनके विरूद्ध निलामपत्र दायर करने का आदेष दिया है। साथ ही अपराधिक Ñत के लिए उनके विरूद्ध स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज करने का आदेष दिया। विदित हो कि श्री Ñष्ण कुमार सिंह विŸाीय वर्ष 2004-05 में पथ प्रमण्डल, चार्इबासा में कार्यपालक अभियंता के पद पर पदस्थापित थे। इनके द्वारा अपने उक्त पदस्थापन काल में हाता-चार्इबासा पथ के कि0मी0 0.00 से 40.800 तक में मजबूतीकरण कार्य के लिए रू0 15.30 करोड़ की प्रषासनिक स्वीÑति प्रदान की गयी थी। हाता-चार्इबासा पथ के कि0मी0 0.00 से 40.800 तक में मजबूतीकरण कार्य के तकनीकी स्वीÑत प्राक्कलन में 61954.08 मी2 प्रोफार्इल लेवलिंग कोर्स का प्रावधान था, परन्तु उनके द्वारा एक साजिष के तहत सरकारी राषि बंदरबाँट करने की नियत से प्रकाषित निविदा में मात्र 13,964.08 मी2 का ही प्रावधान कर शेष प्रोफार्इल लेवलिंग कोर्स का कार्य विभागीय तौर पर सम्पादित कराकर रू0 59.78 लाख सरकारी राषि का दुरूपयोग किया गया है।
—————————————————-
महामहिम राज्यपाल डा0 सैयद अहमद ने राज्य के युवाओं का आहवान करते हुये कहा कि वे इतिहास बनने वाले नहीं अपितु इतिहास रचने वाले बनें। युवाओं से समाज को, राष्ट्र को काफी उम्मीदें हैं। कल की युवाषकित ने देष को आजादी दिलायी आज की युवाषकित जनतंत्र की मजबूती एवं देष की तरक्की हेतु कार्य करे। महामहिम राज्यपाल आज हिन्दुस्तान समाचार पत्र द्वारा बी.एन.आर. होटल में युवा एवं कौषल विकास विषय पर आयोजित समागम में बोल रहे थे।

महामहिम राज्यपाल ने कहा कि हमारा देष युवाआें का देष है और आज हमारी आबादी के 35 प्रतिषत से अधिक युवा हैं। हमें अपनी इस आबादी को एक बेषकीमती मानव संसाधन मानते हुए विभिन्न कार्यक्रम चलाने हैं जिससे कि युवा शकित को एक नर्इ दिषा मिल सके। उन्होंने कहा कि आज विष्व में भारत की उन्नति का ग्राफ निरंतर बढ़ने के साथ-साथ नये अवसर भी सृजित हो रहे हैं। युवाओं के लिए यह सोचना नितांत आवष्यक हो गया है कि वे भूमंडलीकरण के इस युग में चुनौतियों के अनुरूप खुद में क्षमताओं का विकास कैसे कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आज के प्रतियोगात्मक युग में सिर्फ शैक्षणिक ही नहीं व्यवसायिक दक्षता भी बहुत अहम हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी राष्ट्र की उन्नति हेतु आवष्यक है कि वह अपने युवा को शकितसम्पन्न बनाने की शर्त को पूरा करें। उन्होंने कहा कि युवा सोच, युवा इरादे और युवा शकित सुदृढ़ समाज और देष के आधार हैं। उनकी प्रगति से हमारा देष उन्नत देषों की कतार में अग्रणी हो सकता है। उन्होंने कहा कि युवा अवस्था ऐसी अवस्था होती है जिसमें मन एवं शरीर क्षमता से परिपूर्ण होती है, कार्य करने की असीम क्षमता रहती है। इस शकित एवं कार्यक्षमता को सही दिषा प्रदान करना हम सभी की सामूहिक जिम्मेदारी है।

इस अवसर पर हिन्दुस्तान समाचार पत्र के प्रधान सम्पादक श्री शषि शेखर ने अतिथियों का स्वागत एवं विषय प्रवेष करते हुये कहा कि झारखण्ड का इतिहास गौरवमय रहा है। यहां की युवा शकित दूसरों के लिये बहुत लड़ चुके, अब अपने विकास हेतु स्वंय की लड़ार्इ लडें़। श्री शषि शेखर ने युवाओं से कहा कि अवसर पास न आये तो प्रतिक्षा न कर स्वयं अवसर के पास जायें। उन्होंने कहा कि ऊँचार्इ पर पहुंचने हेतु अपने अन्दर के तत्व को जगायें।

इस अवसर पर बोकारो स्टील के मुख्य कार्यकारी पदाधिकारी अषुतोष मिश्रा, प्रसिद्ध युवा पाष्र्व गायिका षिल्पा राव (जमषेदपुर) के अतिरिक्त कर्इ गणमान्य व्यकित उपसिथत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *