Know your Army fair begins at Morahabadi Maidan in Ranchi

Stories

CM Arjun Munda, Jharkhand CM , Arjun Muda , Jharkhand Newsमुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुण्डा ने आज स्थानीय मोरहाबादी मैदान में भूतपूर्व सैनिक रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि भारतीय सेना के शौर्य की जितनी प्रशंसा की जाय कम है। भारतीय सेना विश्व का सबसे सशक्त सैन्य बल है। इन्होंने कठिन से कठिन परिसिथतियों में राष्ट्र के लिए बुलंद हौसलों के साथ संघर्ष में विजय का परचम लहराया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे इस बात पर गर्व है कि अत्याधुनिक तकनीक से लैस समृद्ध राष्ट्रों की सेनाओं से हमारे जवान आगे हैं।

सीमाओं ने समय-समय पर भारतीय सेना की परीक्षा ली है, वह चाहे कारगिल युद्ध हो, बाढ़ की विभीषिका हो, भूकम्प हो, बादल फटने की घटना हो या कोर्इ और अन्य दुर्घटना। हमारे जवान सियाचीन, कश्मीर, अरूणाचल, थार, हिमालय की चोटियों तथा अन्य समस्याग्रस्त क्षेत्रों में संघर्ष को सदैव प्रतिबद्ध रहते हैं। सेवा से निवृत होने के उपरान्त समाज के विभिन्न क्षेत्रों में ये जवान सराहनीय सेवा देते हैं। विशेषकर आंतरिक सुरक्षा, निर्माण और ढांचागत विकास में आपका बहुत बड़ा योगदान है।

उन्होंने कहा कि विकास के लिए शांति आवश्यक है। आंतरिक तथा बाहय दोनों ही शांति अनिवार्य है। विशेषकर आज की प्रतिसिथति में इसका सर्वाधिक महत्व है। शांति के लिए संघर्ष को इतिहास ने कर्इ अवसरों पर अपरिहार्य माना है, परन्तु विकास के लिए अवसर हेतु शांति ही प्रमुख द्वार है। युद्ध में संघर्ष और शांति में निर्माण की प्रक्रिया, दोनों में सेना की महत्वपूर्ण भूमिका हमेशा से रही है। युवापीढ़ी के लिए सेना प्रेरणा के स्रोत हैं। इसे आधार मान कर वे अपने सपनों को उड़ान देते हैं।

उन्होंने कहा कि मेरा प्रयास होगा कि पूर्व सैनिकों के पेंशन भुगतान में आ रही कठिनार्इयों को दूर करने के लिए Defense Pension Disbursement Office (DPDO), राँची और हजारीबाग में भी खोला जाय। इसी प्रकार कैंटीन के प्रसंग में VAT के मामले पर भी हम सचेष्ट हैं। बूटी मोड़ के पास शहीद मेमोरियल की स्थापना वीर शहीदों की स्मृति और सम्मान के लिए किया गया। सरकार द्वारा इसके मेन्टेनेन्स एवं लार्इट तथा साउन्ड प्रोग्राम के प्रति भी आने वाले दिनों में 3 करोड़ की राशि और मुहैया करार्इ जाएगी तथा इसे और भव्य बनाने में सहयोग किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि मुझे यह बताया गया है कि पूर्व सैनिकों के लिए 5 (पाँच) जिला मुख्यालयों में उन्होंने पोलो क्लीनिक खोलने की योजना है। अभी राँची और जशेदपुर में 2 (दो) ऐसे केन्द्र चल रहे हैं। चार्इबासा, गुमला, डालटेनगंज, देवघर और हजारीबाग में खुलनेवाले ऐसे केन्द्रों को सरकार प्राथमिकता के आधार पर समर्थन देगी ताकि जल्द अच्छी व्यवस्था हो सके। राँची में वार-विडोज और पूर्व सैनिकों के बच्चों के लिए छात्रावास बनाने की भी बात सामने आयी है, बेहतर शिक्षा के लिए यह जरूरी है। छात्रावास के लिए सरकार राशि देगी।

CM Arjun Munda, Jharkhand CM , Arjun Muda , Jharkhand Newsमुख्यमंत्री ने कहा कि सेना के जवानों की जितनी भी प्रशन्सा की जाए वह कम है। देश एवं देश की सुरक्षा के लिए आपकी समर्पण भावना अनुकरणीय है। आप के लिए जितना किया जाए वह कम होगा। देश सुरक्षित रहेगा तो हम सुरक्षित रहेंगे। उन्होंने कहा कि आर्मी पबिलक स्कूलों में त्ज्म् ;त्पहीज जव म्कनंंजपवदद्ध से संबंधित कुछ समस्या के संबंध में मामले प्रकाश में लाए गए हैं, उनके समाधान का भी प्रयास किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि झारखण्ड सरकार के गृह विभाग के तहत सैनिक कल्याण निदेशालय कार्यरत है। आपकी सुविधाओं के लिए केन्द्रीय सैनिक बोर्ड और राज्य सराकर कर्इ सार्थक पहल करती है। यदि इसमें और सुधार की अपेक्षा हो, तो परस्पर बैठकर विचार किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं चाहूँगा कि आपकी मेधा, ताकत और अनुशासित प्रशिक्षण का अधिकाधिक उपयोग झारखण्ड राज्य के विकास में हो। आप विकास में अग्रणी भूमिका निभायें ऐसा मेरा व्यकितगत प्रयास होगा। लेफिटनेल कर्नल ज्ञान भूषण जी को बधार्इ देते हुए उन्होंने कहा कि वे न केवल यहां का नेतृत्व कर रहे हैं, बलिक सबका गौरव बढ़ा रहे हैं। इस क्षेत्र का उन्होंने नाम बढ़ाया है।

इस अवसर पर गृह सचिव, श्री जे0बी0तुबिद, आयुक्त, दक्षिणी छोटानागपुर प्रमण्डल, श्री एस0एस0मीणा समेत अनेक गणमान्य लोग तथा भूतपूर्व सैनिकगण उपसिथत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *