Advisors review works,stress need to complete projects in time

Musings on Life

 Two Governor’s Advisors Madhukar Gupta and K.Vijay Kumar have directed the heads of the departments to complete the construction works of the schemes in time so that the people can derive benifit from them

They called upon them to spend the amounts withdrawn as advance as soon as possible.They were reviewing the status of the schemes during the first quarter of the current financial year at the state secretariat today.

A press release issued by the Public Relations Department in Hindi said as follows:

महामहिम राज्यपाल के सलाहकार श्री मधुकर गुप्ता एवं श्री के0 विजय कुमार ने कार्य विभागों को निदेषित किया कि निर्माण की सभी योजनाएं समय पर पूरा कराएं ताकि लोगों को उनका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि पिछले वित्तीय वर्ष की समापित के समय जो भी राषि अगि्रम के रूप में निकासी की गर्इ थी उसका व्यय अविलम्ब किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विभाग द्वारा किए गए अदयतन व्यय की सूचना योजना एवं विकास विभाग को शीघ्र उपलब्ध करार्इ जाए। सभी व्यय की मानीटरिंग विभाग नियमित रूप से स्वयं करें। सलाहकारगण आज प्रोजेक्ट भवन सिथत सभा कक्ष में वित्तीय वर्ष की प्रथम तिमाही की कार्य योजना की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे।
सलाहकार श्री मधुकर गुप्ता ने सभी कार्य विभागों के बजट, आवंटन तथा व्यय की सिथति की समीक्षा की। कल्याण तथा श्रम एवं नियोजन विभाग की योजनाओं के सम्बंध में उन्होंने कहा कि ऐसी अनेक योजनाएं हैं जो एक दूसरे से मिलती जुलती है। इनकी संयुक्त बैठक कर समीक्षा की अलग से आवष्यकता है, इस हेतु उन्होंने विकास आयुक्त को निदेष दिया। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर योजनाओं के कार्यान्वयन हेतु निदेष दिए जाते हैं, परन्तु जब तक स्थल निरीक्षण न किया जाए तब तक वासितवक रूप से परिवर्तन सम्भव नहीं है।
श्री मधुकर गुप्ता ने कहा कि कोषागार के एम0आर्इ0एस0 सिस्टम में सभी विभागों को यह सुविधा प्रदान की जा रही है कि विभाग स्वयं अपने व्यय की मानिटरिंग एवं अपडेटिंग कर सकें। कार्य विभागों द्वारा निविदा के निष्पादन में शीघ्रता बरती जाए। उन्होंने कहा कि कार्य विभाग विभिन्न कार्यों के निष्पादन हेतु तत्पर रहें। उन्होंने निदेष दिया कि प्रत्येक जिले में कार्य विभाग के अभियंताओं को किस-किस विभाग का कौन-कौन से कार्य सौंपे गए हैं की सूची तैयार की जाए। कुछ विभागों के प्रतिनिधि के बैठक में समिमलित नहीं होने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री आर0एस0 शर्मा ने कहा कि सभी विभाग एवं पदाधिकारी अपने र्इ-मेल एड्रेस को सुलभ करा दें ताकि बैठक की सूचना र्इ-मेल के माध्यम से दी जा सके। पत्राचार हेतु उन्होंने इलेक्ट्रोनिक माध्यम के अधिकाधिक उपयोग पर बल देते हुए कहा कि इससे समय की बचत होगी तथा पत्र के नहीं मिलने की सम्भावना नहीं रह जाएगी। उन्होंने कहा कि किसी भी विभाग के कोर्इ संगठनात्मक समस्या हो तो उसका समाधान कर लिया जाएगा।
बैठक में विकास आयुक्त श्री ए0के0सरकार, प्रधान सचिव उर्जा श्री बिमल कीर्ति सिंह, प्रधान सचिव ग्रामीण विकास विभाग श्री आर0एस0पोददार, प्रधान सचिव कल्याण विभाग श्री एल0ख्यांगते, प्रधान सचिव मानव संसाधन विकास विभाग डा डी0के0तिवारी, प्रधान सचिव पथ श्रीमती राजबाला वर्मा, प्रधान सचिव पशुपालन एवं गव्य विकास श्री बी0के0 त्रिपाठी, प्रधान सचिव वन एवं पर्यावरण श्रीमती अलका तिवारी, प्रधान सचिव वित्त श्री सुखदेव सिंह, प्रधान सचिव Ñषि एवं गन्ना विकास विभाग श्री नितिन मदन कुलकर्णी, प्रधान सचिव पंचायती राज विभाग श्री राजीव वरूण एक्का, सचिव योजना एवं विकास विभाग श्री अविनाष कुमार एवं मनरेगा आयुक्त श्री अरूण सहित प्रमुख कार्य विभागों के वरीय पदाधिकारीगण उपसिथत थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.