सूचना तकनीक को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँचाना है

Press Release

राँची, दिनांक-26, जुलार्इ-2012

सूचना तकनीक को ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुँचाना है। आज सूचना तकनीक के बिना विकास की कल्पना नहीं की जा सकती है। सूचना तकनीक के विकास के लिए प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए सबसे पहले जनमानस तैयार करना होगा। सूचना तकनीक के विकास के साथ ही राज्य का समेकित विकास सम्भव है। हिन्दी भाषा-भाषी क्षेत्र के पिछड़ेपन का एक बहुत बड़ा कारण अंग्रेजी भाषा की जानकारी का अभाव है। परन्तु इसका विकास अचानक नही हो सकता है। ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूली बच्चों के उपर अंग्रेजी का अचानक दबाव उनके उपर एक बोझ डालने जैसा होगा। इसके लिए पूर्व से वातावरण निर्माण आवश्यक है जिसका प्रयास किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री अजर्ुन मुण्डा ने उपरोक्त बातें आज यू0आर्इ0डी0ए0आर्इ0 के महानिदेशक, श्री आर0एस0 शर्मा से अनौपचारिक वार्ता के क्रम में कहा। श्री शर्मा मुख्यमंत्री से मिलने उनके आवास पर आए थे। श्री शर्मा ने मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की जानकारी ली तथा उनके शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु शुभकामना दी। इस अवसर पर यू0आर्इ0डी0ए0आर्इ0 के महानिदेशक, श्री आर0एस0शर्मा ने कहा कि झारखण्ड में यू0आर्इ0डी0ए0आर्इ0 के काम में काफी प्रगति हुर्इ है। बिहार, बंगाल तथा झारखण्ड में एक साथ यह काम आरम्भ हुआ था परन्तु झारखण्ड इनमें सबसे आगे है। यहाँ लगभग एक करोड़ लोगों को इन्रोलमेंट हो चुका है। उन्होंने कहा कि यू0आर्इ0डी0ए0आर्इ0 के प्रति मुख्यमंत्री के सकारात्मक एवं स्पष्ट दृषिटकोण का यह प्रतिफल है। राज्य में मुख्य सचिव तथा विकास आयुक्त भी इस दिषा में काफी रूचि ले रहे हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि राज्य के विकास के लिए आधार आधारित सरकार की विभिन्न योजना को लागू किया जाए जिससे राज्य के गरीब तबके के सभी लोगों को लाभ की राशि आसानी से मिलने लगेगी। पाँच जिलों में आरमिभक तौर पर जाँच कार्य प्रारम्भ किए गए हैं जिसके सकारात्मक परिणाम आए हैं। मनरेगा, छात्रवृति, कल्याण विभाग की अन्य योजनाओं के तहत राषि का भुगतान आधार के आधार पर उनके गाँवों में उनके खाता में सीधे उपलब्ध हो रहा है। यह पूरे राज्य में लागू करने पर गरीबों को सीधे लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री मुण्डा ने आश्वासन दिया कि इसे पूरे राज्य में क्रमबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *