मुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुण्डा आज अपने आवास पर

Press Release

कार्य को टीमवर्क के रूप में लें। भविष्य की योजनाओं को विजुअलाईज करें। योजनाओं के प्रति स्पष्ट दृष्टिकोण होने चाहिए। आर्किटेक्ट का पैनल बनाईए। कार्य के प्रति व्यवसायिक दृष्टिकोण बनाएं। संस्था के साथ ही राज्य के विकास को बल दें।

मुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुण्डा आज अपने आवास पर ‘जिडको’ की बैठक में उपस्थित पदाधिकारियों का सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इसकी बैठक प्रत्येक तीन माह में होनी चाहिए। टाईम और रिस्क दोनों का प्रबंधन आवश्यक है, तभी बेहतर परिणाम सम्भव है। जहाँ तक कर्मियों के कमी का प्रश्न है। संविदा के आधार पर इसे भरा जा सकता है। 15 दिनों के अन्दर नियुक्ति की प्रक्रिया आरम्भ की जाए। आवश्यक हो तो प्रतिष्ठित संस्थानों से कैम्पस सलेक्सन की जाए। कर्मियों का आउटपुट आना चाहिए। परर्फोमेंस बेस्ड इन्सेंटिव को भुगतान का आधार बनाया जा सकता है। जिडको कम्पनी एक्ट के तहत राजिस्टर्ड है। इसकी विश्वसनियता बढ़ाईए। लाभ आम लोगों तथा सरकार दोनों को मिले।
इस अवसर पर अपर मुख्य सचि, श्री ए0के0सरकार, प्रधान सचिव भूराजस्व श्री एन0एन0 पाण्डेय, प्रधान सचिव पथ निर्माण विभाग श्रीमती राजबाला वर्मा, उद्योग सचिव श्री ए0पी0सिंह, वित्त सचिव श्री सुखदेव सिंह, नगर विकास सचिव श्री नीतिन कुलकर्णी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *