मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड के लोग मेहनती हैं

Press Release

arjun munda, jharkhand newsउधमषीलता का विकास आवष्यक है। मानव शकित को उत्पादकता से जोड़ना होगा। इस हेतु पूर्व से ही योजना निर्माण आवष्यक है। आर्थिक विकास एवं उत्पादन के लिए कृषि को उतना ही महत्व देना चाहिए। कृषि को उधोग की तरह बढ़ावा देना है।

मुख्यमंत्री श्री अर्जुन मुण्डा आज श्री नन्द कुमार प्रसाद, मुख्य श्रमायुक्त, भारत सरकार के साथ भेंटवार्ता के दौरान कहा कि उत्पादन के विकास हेतु ट्रेड का चयन सही होना चाहिए। षिक्षा के साथ गुणवत्ता अनिवार्य है। बाजार एवं आपूर्ति अथवा मांग एवं आपूर्ति के बीच संतुलन आवष्यक है, जिसके लिए पूर्व से ही योजना बनानी होगी। हमें इसके लिए सोंच में विकास के साथ ही वातावरण का निर्माण भी करना होगा। तकनीकि दृषिटकोण से गुणवत्तापूर्ण मानवशकित का सृजन अनिवार्य है। हमें इनकी क्षमता का विकास एवं इन्हें प्रेरित करना होगा। उन्होंने कहा कि जनगणना रिपोर्ट आ चुके हैं। जन्मदर की जानकारी है तो फिर उनकी आयु की गणना करते हुए पूर्व से ही योजना का निर्माण आवष्यक है। 10वीं की षिक्षा के बाद ड्रोपआउट करने वालों के लिए आर्इ0टी0आर्इ0 एक अच्छा विकल्प है। आर्इ0टी0आर्इ0 में नए ट्रेडों को भी समिमलित करने की आवष्यकता है। इसे Ñषि के साथ जोड़ने पर बेहतर परिणाम आएंगे। ऐग्रो-इंडस्ट्रीयल ग्रोथ की सोंचनी चाहिए ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखण्ड के लोग मेहनती हैं। उनमें अपार क्षमता है। लक्ष्य आधारित कार्य झारखण्ड क्षेत्र के लोगों की विषेषता है। हमें इसका लाभ उठाना चाहिए। उनकी क्षमता को एक दिषा देने की आवष्यकता है। जागरूकता की कमी है। हर व्यकित को अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *